बच्चों में फास्ट फ़ूड(Junk Food Addition) का बढ़ता चलन : मजा या सजा ?

Share:
आजकल फ़ास्ट फ़ूड के तो सभी दीवाने हैं बच्चे हो या वयस्क । सबकी पसंद अधिकतर फ़ास्ट फ़ूड ही होती है बिना इसके पार्टी बेमजा लगती है । बच्चों में इसकी लत वैसे ही होती है जैसे किसी वयस्क में शराब या किसी अन्‍य नशे की  होती है । जंक फूड की लत बच्चों के  स्वास्थ्य के लिए अविश्वसनीय रूप से खतरनाक स्थिति हो उत्पन्न कर सकता है। इन फ़ास्ट फूड्स में पोषक तत्वों का आभाव रहता है इनको स्वादिष्ट बनाने के लिए कई हानिकारक रसायनों का प्रयोग भी किया जाता है ।

क्या आप तैयार हैं इस लत से बचने के लिए ?  आइये फास्ट फूड की लत से पीछा छुड़ाने के कुछ तरीकों के बारे में जानें -
   

   फ़ास्ट फूड्स (Junk Foods)  की लत :-


 एक नये शोध के अनुसार, जंक फूड की लत शराब,तम्बाकू या अन्य नशे की लत की ही तरह होती है। यह समस्या सिर्फ बच्चों में ही नहीं बल्कि युवाओं में भी बढ़ती जा रही है। बहुत से बच्चे तो जंक फूड पर आधारित आहार को ही जीवन का हिस्सा मान बैठे हैं  है। हालांकि वे मासूम इसके नुकसान के बारे में नहीं जानते हैं, ऐसे में माता-पिता को उनके स्वास्थ्य के प्रति सतर्क रहना होगा ।

    फ़ास्ट फूडस्  की लत और स्‍वास्‍थ्‍य पर प्रभाव:-


    आमतौर बहुत से परिवार फ़ास्ट फूड्स से होने वाले  नुकसान को जानते हुए भी इसे छोड़़ नहीं पाते। उन्‍हें इसकी लत लग चुकी होती है,और इसलिए वे चाहकर भी इसे छोड़ नहीं पाते। वे यह स्वीकार करते हैं कि इस तरह का भोजन उन्‍हें तमाम तरह की गंभीर बीमारियां दे सकता है, लेकिन फिर भी वे खुद को असमर्थ पाते हैं। जंक फूड में अत्यधिक कार्बोहाइड्रेट, वसा और शर्करा होती है। इसमें अधिकतर तलकर बनाए जाने वाले व्यंजनों में पिज्जा, बर्गर, फ्रैंकी, चिप्स, चॉकलेट, पेटीज आदि मुख्य रुप से शामिल हैं। शराब या किसी अन्‍य नशे की तरह जंक फूड की लत हमारे स्वास्थ्य के लिए एक अविश्वसनीय रूप से खतरनाक स्थिति हो सकती है।

 क्यों पड़ जाती है फ़ास्ट फूड्स की लत :-


सामान्य तौर पर जंक फूड में पाई जाने वाली चीनी, फैट और अन्‍य सामग्री हमें इन खाद्य पदार्थों का आदी बना देती हैं। चीनी और वसा की बहुत अधिक मात्रा में सेवन करने से हमारे शरीर से "डोपामाइन" नामक रसायन निकलता है, यह रसायन हमें बहुत अच्‍छा महसूस करवाता है। जिसके कारण हम अधिक बार अच्‍छा महसूस करना चाहते हैं इसलिए हम इसके आदी बन जाते हैं।

कैसे बचें इस फ़ास्ट फूड्स की लत से ?


बच्चों ! जब आपको भूख लगती है, तो क्या आपकी बर्गर,पिज्जा खाने की तीव्र इच्छा होती है? क्या चाऊमीन,पेत्तिज,या फ्रैंच फ्राईज का खयाल आपको रेस्टोरेंट तक ले जाता है? क्या आप इस बात को स्‍वीकार कर सकते हैं कि आपको फास्ट फूड की लत है ? आइये अब जानते हैं इस फास्ट फूड की लत से पीछा छुड़ाने के तरीकों के बारे में :-

आहार डायरी बनाकर रखें, खाने की आदतों पर ध्‍यान :-


 किसी भी लत को छोड़ने का सबसे पहला कदम होता है, समस्‍या को पहचानना और उसे स्‍वीकार करना। इसी तरह जंक फूड की समस्‍या से बचने के लिए सबसे जरूरी है समस्‍या को पहचानना। इसके लिए आहार डायरी आपकी मदद कर सकती है। इसमें दिन भर में लिये जाने वाले खाद्य पदार्थों के बारे में लिखकर आप भोजन की समग्र तस्‍वीर देख पायेगें और जान पायेगें कि दिन भर में आप कितना अस्‍वस्‍थ भोजन करते हैं।

फ़ास्ट फूड्स सेहत के लिए हानिकारक है इस बात को मन में बैठाएं :-


जंक फूड की लत को छोड़ने के लिए आपको यह स्‍वीकार करना होगा कि यह आपकी सेहत के लिए काफी नुकसानदेह हैं। आपको मानना होगा इन नुकसानों की भरपाई करना आसान नहीं। इसके लिए आपको ऐसे व्यक्तिगत कारण खोजने होगें जो आपको इससे दूर रहने में सहायता कर सकें। एक बार कारण मिलने पर आपके लिए जंक फूड से पीछा छुड़ाना आसान हो जाएगा।

घरेलू मसालों से तैयार स्वादिष्ट भोजन का लें आंनद :-


आप अपने हेल्‍दी भोजन का आनंद लें और अपना नजरिया बदलिये कि हेल्‍दी भोजन भी अगर अच्‍छे तरीके से बनाया जाएं तो जंक फूड की तरह स्वादिष्ट हो सकता है। आप विभिन्‍न मसालों के साथ घर में बने हुए भोजन में भी वही स्‍वाद ला सकते हैं। आपको पता भी नहीं चलेगा कि आप कब जंक फूड छोड़कर इसके आदी हो गए।

   जंक फूड कब और क्‍यों खाते हैं ? इसकी करें पहचान:-


 जंक फूड की आदत को छोड़ने के लिए यह जानना भी बहुत जरूरी है कि आप जंक फूड क्‍यों और कब खाते हैं। हमारे खाने की आदतें अक्‍सर बाहरी कारको द्वारा नियंत्रित होती हैं, जैसे काम और जीवन की प्रतिबद्धताओं, तनाव, आराम की जरूरत, समय की कमी या लालसा। यह पहचानने के बाद कि आप कब जंक फूड की ओर आकर्षित हो रहे हैं यह देखना भी जरूरी है कि यह जीवनशैली के कौन से कारक आपके खाने के विकल्पों को प्रभावित कर रहे हैं। यह सब जानने के बाद आप आसानी से इस लत से छुटकारा पा सकते हैं।

फ़ास्ट फूड्स मिलने वाली जगहों से बनाये दूरी :-


कहावत है जो दिखता है वही बिकता है ऐसे में अगर खाद्य पदार्थ आपको लुभाने के लिए आपके आस-पास नहीं है तो इसे खाने की संभावना कम ही होती है। इसलिए जंक फूड और स्नैक्स खरीदने से बचें और इनके स्‍थान पर स्वस्थ विकल्पों को अपनाएं।

घर-परिवार और मित्र मंडली से लें मदद :-


 आमतौर पर एक स्‍वस्‍थ विकल्‍प को अपनाने के लिए कई बार आप अकेले हिम्‍मत नहीं जुटा पाते। इसके लिए दूसरों की मदद लेने में कोई बुराई नहीं। आप अपने दोस्‍तों और परिवार के अन्‍य लोगों की सहायता ले सकते हैं। वे आपको प्रेरित कर सकते हैं कि इस प्रकार का भोजन आपकी सेहत पर बुरा असर डाल रहा है और आपके लिए इसे छोड़ना ही बेहतर है।

खाने के  स्वस्‍थ विकल्पों की तलाश करें :-


 जंक फूड की लत कम करने और उसकी लालसा को शांत करने के लिए जंक फूड की जगह किसी स्‍वस्‍थ विकल्‍प को लेने की कोशिश करें। जैसे अगर आपको मीठे खाद्य पदार्थ की लत हैं तो ताजे फल या छोटी सी मात्रा में ड्राई फ्रूट लें और अगर आपको नमकीन स्‍नैक्‍स खाने की आदत है तो आप मुट्ठी भर नट्स ले सकते हैं।

भोजन में  लीन प्रोटीन और साबुत कार्बोहाइड्रेट करें शामिल :-


ब्‍लड प्रेशर में कमी होने पर आपको मीठा और फैट से भरपूर खाद्य पदार्थ खाने की इच्‍छा होती है। इसलिए ब्‍लड प्रेशर के स्‍तर को स्थिर बनाए रखने के लिए अपने हर भोजन में वसा प्रोटीन, साबुत और कम जीआई कार्बोहाइड्रेट जैसे खाद्य पदार्थों को जरूर शामिल करें।