गुरुत्वाकर्षण और गति के नियमों की खोजकर्ता सर आइजैक न्यूटन की जीवनगाथा

Share:

सर आइजैक न्यूटन Sir Isaac Newton (1727 1642) गुरुत्वाकर्षण और गति के

नियमों की खोज –

 न्यूटन के नाम का उल्लेख होते ही हमें सबसे पहले गुरुत्वाकर्षण का ध्यान आता है| हालांकि, इस महान ब्रिटिश वैज्ञानिक ने सैद्धांतिक और प्रायोगिक दोनों तरह की गणित और भौतिकी, की शाखाओं के लिए काफी योगदान दिया है| अपने गति के प्रसिद्द तिन नियमों के आलावा उन्होंने इस बात को भी सिद्ध किया की सूर्य के प्रकाश में 7 तरह के रंग होते हैं| वर्तमान में भौतिक विज्ञान और इंजीनियरिंग न्यूटन के सिद्धांतों पर टिके हुए हैं|

 न्यूटन ने यह भी बताया की दो वस्तुएं एक दुसरे को आकर्षित करती हैं| गुरुत्वाकर्षण और गति के उनके इन नियम्मों से हमें ग्रहों और उपग्रहों की गति को समझने में भी मदद मिली| न्यूटन ने अपने सभी नियमों के लिए सटीक गणितीय समीकरण भी दिए| न्यूटन के समय में गणित ने बहुत उन्नति नहीं की थी| न्यूटन ने कैल्कुलस (calculus) और द्विपद प्रमेय   binomial theorem) की भी खोज की| न्यूटन की भौतकी की यह खोज, अपने आप में अद्वितीय थी| उनकी इन उपलब्धियों के बावजूद वह बहुत विनम्र थे|

जीवन में प्रमुख घटनायें एवं प्रमुख वैज्ञानिक योगदान Major Events in Life & Major Scientific Contributions

जन्म – 25 दिसंबर 1642, वूल्स्थोर्पे, इंग्लैंड
मृत्यु – 20 मार्च 1727,
 केंसिंग्टन (वेस्टमिंस्टर में 28 मार्च को दफनाया गया) न्यूटन की माँ और उनके सौतेले पिता उन्हें किसान बनाना चाहते थे| 1969 में वह कैम्ब्रिज में गणित के प्रोफेसर नियुक्त हुए| 1696 में उन्हें एक टकसाल (mint) का वार्डन नियुक्त किया गया| 1699 में उन्होंने फिर से सिक्के बनाने की प्रक्रिया पूरी की, और उन्हें टकसाल का प्रमुख नियुक्त किया गया|

 1703 में रॉयल सोसाइटी के अध्यक्ष चुने गए| 1705 में उन्हें नाइट की उपाधि मिली| कुछ दिनों तक संसद में भी उन्होंने सेवा की| 1727 में अविवाहित ही पित्त की पथरी के दर्द के कारण उनकी मृत्यु हो गयी| उन्होंने परावर्तन दूरदर्शी (reflecting telescope) का भी अविष्कार किया| 1665 से 1668 के बीच उन्होंने कैलकुलस के सिद्धांतों की भी खीज की| उन्होंने प्रकाश के कण सिद्धांत (Corpuscular Theory of Light) को दिया|

 वे पहले वैज्ञानिक थे जिसने प्रकाश को उसके घटक रंगों में तोडा, और उसे फिर से जोड़ दिया| 1686 में गति और गुरुत्वाकर्षण के नियमों को दिया| उन्होंने प्रिन्सिपिया (फिलोसोफी नेचुरेलिस) और प्रिन्सिपिया मेथेमेटिका (Principia (Philosophiae Naturalis) and Principia Mathematica) लिखी|